Apr 24, 2021
77 Views
0 0

Inspirational Shayari – Dharti Par Lakeeren

Written by

Tum Yahan Dharti Par Lakeeren Kheenchte Ho,
Ham Vahaan Apne Liye Naye Aasman Dhoondhte Hain,
Tum Banate Jate Ho Pinjade Par Pinjada,
Ham Apne Pankhon Mein Nayi Udan Dhoondhte Hain.

तुम यहाँ धरती पर लकीरें खींचते हो,
हम वहाँ अपने लिये नये आसमान ढूंढते हैं,
तुम बनाते जाते हो पिंजड़े पर पिंजड़ा,
हम अपने पंखों में नयी उड़ान ढूंढते हैं।

Samne Ho Manjil To Raste Na Modna,
Jo Bhi Man Mein Ho Vo Sapna Na Todana
Kadam Kadam Pe Milegi Mushkil Aapko, Bas
Sitare Chunne Ke Liye Jameen Mat Chhodana.

सामने हो मंजिल तो रास्ते न मोड़ना,
जो भी मन में हो वो सपना न तोड़ना
कदम कदम पे मिलेगी मुश्किल आपको, बस
सितारे चुनने के लिए जमीन मत छोड़ना।

Buland Ho Honsla To Mutthi Mein Har Mukam Hai,
Mushkile Aur Musibate To Zindagi Mein Aam Hain,
Zinda Ho To Takat Rakho Bajuon Mein Tairne Ki,
Kyoki Laharo Ke Sath Bahna To Lasho Ka Kaam Hai.

बुलंद हो होंसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है,
मुश्किले और मुसीबते तो ज़िंदगी में आम हैं,
ज़िंदा हो तो ताकत रखो बाज़ुओ में तैरने की,
क्योकि लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम है।

Article Categories:
Inspirational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 2 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.